आध्यात्मिक जीवन की पराकाष्ठा – ‘प्रकाश से पोषण लेना’ : परिचय , various Masters

(4th Pinnacle of Spiritual Living – Breatharianism | Living on Light: Introduction, various Practitioners)

हम सबने यह सुना हुआ है , ऐसे संत होती हैं जिन्हें खाने की जरुरत नहीं पड़ती।
मैंने बचपन में अपने नानाजी से ऐसे महात्मा के बारे में सुना हुआ है ,जो संग्रामपुर गांव आये थे,४० दिन रहे.. प्रवचन करते हुए। वे सिर्फ एक बार भोजन करते थे और वो भी एक रोटी।

Hindi of AutoBiography of Yogi – Authored by Paramhansha Yogananda

पुस्तक में ऐसी एक निराहारी योगिनी गिरिबाला (Chapter 46) का जिक्र है , जो भगवान से प्रार्थना करती है , ‘हे भगवान, मेरे पास ऐसा एक गुरु भेजो जो मुझे अन्न के बदले प्रकाश से जीवित रहना सीखा सके। ‘ प्रार्थना का असर हुआ और दिन के उजाले में हवा से गुरुदेव प्रकट हुए। जिनके आशीर्वाद से गिरिबाला प्रकाश पर जीने लगी।
2008 में GCSS Global Congress of Spiritual Scientist, Bengaluru प्रोग्राम में Jasmuheen जसमुहीन (Australia) को सुनने का मौका मिला , जो 1993 से प्रकाश पर जी रही है। 
अपने पॉवरपॉइंट प्रेजेंटेशन में उन्होंने HRM हिरा रतन मानेक के बारे में बताया जो डॉ सुधीर शाह, Senior Neurologist Sterling Hospital, Ahmedabad और नासा के Supervision में दो बार अलग-अलग 411 दिन का उपवास रख चुके हैं।

मेरा सूर्य योगी स्वामी उमा शंकर आश्रम , बंगाल जाना हुआ जो २०-२५ मिनट सूर्य त्राटक करते हैं और, अपनी हिमालय यात्रा के दौरान ४ महीने उपवास कर चुके हैं। वो कहते है , यह एक सिद्धि है (पतंजलि योग-सूत्र ३:३१)। अपने गुरु महावतार बाबाजी के निर्देश पर Peace Project पर काम कर रहे हैं।

2016 में Erika (Brussels, Belgium) से मिलना हुआ , जो २००१ से प्राण पर जी रही हैं। Erika का जन्म 1937 का है।

Ray Maor, a Israeli Breatharian has undergone 8 days TV camera observed & Doctor Ilan Kitzis monitored 8 days Fasting Experiment successfully.

Akahi Ricardo & Camilla are Breatharian couple n Parent from California. Akahi has authored Book ‘Returning to Light … Expand your Consciousness’

Elitom El-amin, a african american breatharian faciliated workshop recently at Lonavala Pune, Maharashtra, India.

Jasmuheen, Ambassador of Peace has authored 18 Books like ‘Food of God’ ; ‘Pranic Nourishment’. These books has been translated into 20+ language.

 

Share on facebook
Facebook
Share on google
Google+
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest

Need paid consultation? Click on the below link to learn more.

× How can I help you?